रिश्ते

रिश्ते होते रेशम की डोर ,
रेशम से भी ज्यादा कमज़ोर,
मिलते है ये बड़ी मुश्किल से,
दिल का ये बड़ा अनूठा चोर।
-वेधा सिंह

Like Comment 0
Views 5

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share