23.7k Members 50k Posts
Coming Soon: साहित्यपीडिया काव्य प्रतियोगिता

राह गर दुश्वार है

राह गर दुश्वार है
हाथ में पतवार है

सच की ख़ातिर दोस्तो
मौत भी स्वीकार है

शे’र है कमज़ोर तो
शा’इरी बेकार है

चुभ रहा है शूल-सा
फूल है या खार है

रिश्ते-नातों में छिपा
ज़िन्दगी का सार है

झूठी ये मुस्कान भी
ग़म का ही विस्तार है

घी में चुपड़ी रोटियाँ
पगले माँ का प्यार है

6 Views
महावीर उत्तरांचली
महावीर उत्तरांचली
नैनीडांडा (पौड़ी गढ़वाल) व दिल्ली
298 Posts · 9k Views
एक अदना-सा अदबी ख़िदमतगार Books: इक्यावन रोमांटिक ग़ज़लें (ग़ज़ल संग्रह); इक्यावन उत्कृष्ट ग़ज़लें (ग़ज़ल संग्रह);...
You may also like: