राजनीति भाषण

कविता

राजनीति भाषण

– बीजेन्द्र जैमिनी

नेता
बन गये पार्टी वक्ता
रोज भाषण देते है
पार्टी को मजबूत करते है
रात-दिन एक करते है
राजनीति भाषण देते है।

नेता
बन गये विधायक
रोज समस्या सुनते है
अपने क्षेत्र को मजबूत करते है
रात-दिन एक करते है
राजनीति भाषण देते है

नेता
बन गये मन्त्री
रोज लोगों के काम करते है
अपने कार्यकत्तों को मजबूत करते है
रात-दिन एक करते है
राजनीति भाषण देते है।

नेता
बन गये मुख्यमन्त्री
रोज नई-नर्इ योजना लागू करते है
राज्य की सेवा करते है
रात- दिन एक करते है
रातनीति भाषण देते है।

नेता
बन गये आंतकवादी निशान का शिकार
रोज नर्इ-नर्इ बातें होती है
प्रदेश में हर काम की बातें होती है
रात-दिन सभा होती है
रानीति भाषण होते है।

******* ********

Like 1 Comment 1
Views 618

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share