गीत · Reading time: 1 minute

*** रंग डारो मोरे मन को ***

तन रंगे अब का होवे है
रंग डारो मोरे मन को ।।
ओ पिया ओ पिया ओ पिया
मैं तो हो ली अब साजन की
अब चाहे होली है बस होली ।।
ओ पिया ओ पिया ओ पिया
डारो रंग डारो रंग श्याम रंग
राधा है बडी भोरी बडी भोरी ।।
ओ पिया ओ पिया ओ पिया
कलजुग में बन मीरां डोली
राधा है बडी भोरी ओ भोरी।।
ओ पिया ओ पिया ओ पिया
रूकमणी के संग साथ रहे तुम
जोड़े फिर नाता संग राधा ।।
ओ पिया ओ पिया ओ पिया
बदरंग हो गयी राधा तोरी
कब से सुध-बुध खोई।।
ओ पिया ओ पिया ओ पिया
मीरां बन बन गयी वो बावरी
ना तूने कभी सुध लीनी।।
ओ या ओ पिया ओ पिया
जनम जनम चाहे साथ तुम्हारा
तूं चाहे क्या,नहीं कभी चीन्ही।।
श्याम सांवरे श्याम सांवरे
अब हारी सी हरि किन्ही ।।
तन रंगे अब का होवे है
रंग डारो मोरे मन को
रंग डारो मोरे मन को
ओ पिया ओ पिया ओ पिया ।।
?मधुप बैरागी

1 Like · 95 Views
Like
You may also like:
Loading...