Skip to content

**रंगों का त्योहार मंगलमय बनाएँगे—- बड़ों का आशीर्वाद आज सभी हम पाएँगे ||||||

Neeru Mohan

Neeru Mohan

कविता

March 13, 2017

*फागुन का यह मास है
रंगों का त्योहार है और मिठास का एहसास है |

**होली है मंगल मिलन का त्यौहार होली है सतरंग बरसाने का त्योहार होली है बहुत मिठास का त्योहार

*इस त्योहार को
मंगलमय बनाएँगे हम
पूरे साल अच्छे कार्य
करके दिखाएँगे |

*हमने जो किया है
वादा आपसे
उसे अमल में
लाएँगे हम |
सकारात्मक भावों को
अपना कर ही आगे का रास्ता
बनाएंगे हम |

*करना हमें हमेशा प्रोत्साहित
मंजिलों का रास्ता
आसान बनाएँगे हम |
भूल कभी हो जाए
तो माफ कर देना हमें
आपका ही साथ पाकर
मंजिल तक पहुँच पाएँगे हम |

*अगर रूठोगे
दुखी हो जाएँगे हम |
आपके प्यार के बिना
आगे बढ़ने की
सोच ना पाएँगे हम |

*स्वस्थ रहो
यही है दुआ हमारी |
आपकी डाँट में भी
प्यार का एहसास
पाएँगे हम |

*जीवन में कोई दुख
न निकट आए आपके |
दुआ करते हैं हमेशा
सुख के फूलों की
चादर-सा रास्ता
बनता जाए आप के लिए |

*मेहनत और लगन से ही
सफलता प्राप्त होती है
यही सब है
हमने सीखा आप से |
प्रेरणा पाकर
उसी रास्ते पर चलने का प्रयास
किया है हमने |

***बहुत करते हैं आपसे प्यार
यही बस कहना चाहेंगे
बारंबार आपसे |
यही बस कहना चाहेंगे
बारंबार आपसे |

***सभी बच्चों की तरफ से अपने बड़ों के लिए होली की शुभकामनाएँ

Recommended
ये माना घिरी हर तरफ तीरगी है
ये माना घिरी हर तरफ तीरगी है मगर छन भी आती कहीं रोशनी है न करती लबों से वो शिकवा शिकायत मगर बात नज़रों से... Read more
Author
Neeru Mohan
व्यवस्थापक- अस्तित्व जन्मतिथि- १-०८-१९७३ शिक्षा - एम ए - हिंदी एम ए - राजनीति शास्त्र बी एड - हिंदी , सामाजिक विज्ञान एम फिल - हिंदी साहित्य कार्य - शिक्षिका , लेखिका friends you can read my all poems on... Read more