युवा शक्ति तुमपे है आस

युवा शक्ति तुमपे है आस
मन में ला नयी उमंग
और अटूट नया विश्वास
न बैठे रह गुमशुम
युवा शक्ति तुमपे है आस

भूल जा अतीत निराश दिन
सुनहरे अक्षरों में लिखना है
एक नया इतिहास
आज कुछ नहीं तो क्या हुआ ?
होगा कल सबकुछ
ऊपर वाले पर रख विश्वास

देख लेना सारी दुनिया करेगा
तेरे कामों पे एक दिन नाज़
जो भी उलझने हैं पथ पर
कर ले विश्लेषण कल नहीं ,आज

मेहनत कर , सब्र कर
पहुंच से ज्यादा दूर नहीं
ये चाँद , ये आकाश
कुछ भी नहीं नामुमकिन यहाँ
तू करता रह प्रयास प्रयास प्रयास

तुम्हें चंचल मन को
बनाकर रखना होगा दास
तू जो चाहेगा वहीँ होगा
हिमालय सा अचल रख साहस
कुछ भी नहीं नामुमकिन यहाँ
तू करता रह प्रयास प्रयास प्रयास

1 Comment · 913 Views
नाम- दुष्यंत कुमार पटेल उपनाम- चित्रांश शिक्षा-बी.सी.ए. ,पी.जी.डी.सी.ए. एम.ए हिंदी साहित्य, आई.एम.एस.आई.डी-सी .एच.एन.ए Pursuing -...
You may also like: