Skip to content

“मैं “

Rahul Tiwary

Rahul Tiwary

कविता

December 31, 2016

मैं जो हूँ वो हूँ
जो नही हूँ वो होने का मुझसे दिखावा भी
नही हो सकता
कभी कभी अपनी इसी आदत के कारण
मुश्किलो से घिर जाता हूँ
पर
मै जो हूँ वो तो हूँ- राहुल (RT)

Author
Rahul Tiwary
Recommended Posts
■ हक़ीक़त हूँ यारों कहानी नही हूँ  ■
■ हक़ीक़त हूँ यारों कहानी नही हूँ वही आग हूँ यार पानी नही हूँ ■ *** ■ दुखों से भरी जिंदगानी थी मेरी मैं ऐसी... Read more
जो चाहता हूँ वो भूल नही पाता हूँ लौट कर मैं वही आ जाता हूँ
जो चाहता हूँ वो भूल नही पाता हूँ लौट कर मैं वही आ जाता हूँ बेवफ़ा की बेवफाई का सितम मैं ही पाता हूँ चुपके... Read more
मैं हूँ दीप वो जो सदा ही जला हूँ।
नहीं मैं रुकूंगा नहीं मैं रुका हूँ। सचाई के पथ पर सदा ही चला हूँ।। कमी ढूँढने में लगे क्यूं हो मेरी। कहा कब है... Read more
बचपन कहाँ ?????
आज जिंदगी के उस मोड़ पर खड़ा हूँ मैं दुखी हूँ फिर भी ख़ुशी के लिए अड़ा हूँ मैं अच्छा था बचपन जिसे छोड़ चूका... Read more