कविता · Reading time: 1 minute

मेहनत

सुनेगा गर दुनिया की तमाशा करके रख देगी
तेरा विश्वास तोड़ेगी हताशा भर के रख देगी
अगर ख्यावों को जीना है
अगर मंज़िल को पाना
कहे जो दिल वही करना तुझे, बस बढ़ते जाना है
किसी दिन देखना मेहनत तेरी वो रंग लाएगी
तेरी शौहरत हि मेहनत का खुलासा करके रख देगी ।।

✍️रश्मि गुप्ता @ Ray’s Gupta

1 Like · 2 Comments · 21 Views
Like
Author
23 Posts · 1.1k Views
District hardoi tahsil shahabad
You may also like:
Loading...