Mar 1, 2017 · कविता
Reading time: 1 minute

मेरी बहना

????
उदास ना हो मेरी बहना,
मान ले तुम मेरा कहना।
मिल बाट ओढे ओढ़ना,
संग- संग सदा है रहना।
मुस्किल से ना घबराना,
मिलजुल करेगें सामना।
बाहों का बना दूँ झूलना,
देख हिम्मत ना हारना।
???? -लक्ष्मी सिंह??

139 Views
Copy link to share
लक्ष्मी सिंह
826 Posts · 261.4k Views
Follow 45 Followers
MA B Ed (sanskrit) My published book is 'ehsason ka samundar' from 24by7 and is... View full profile
You may also like: