.
Skip to content

~~मेरी दुआ तेरे लिए~~

अजीत कुमार तलवार

अजीत कुमार तलवार "करूणाकर"

कविता

February 18, 2017

मैं नहीं चाहता कि तू मुझ को दुआ दे
मैं नहीं चाहता कि तू मुझे वफ़ा दे
मैं नहीं चाहता की रब से, मेरे लिया कुछ मांग
पर मैं चाहता हूँ , तूं हर पल खुश रह !!

यह क्या मेरे लिए किसी दुआ से कम है
तूं खुश है तो मेरा मन भी खुश है
तुझ को खुश देख लूं, तो समझूंगा की दुआ कबूल है
मेरा यार सुखी तो मेरा दिल खुशगवार है !!

अजीत कुमार तलवार
मेरठ

Author
अजीत कुमार तलवार
शिक्षा : एम्.ए (राजनीति शास्त्र), दवा कंपनी में एकाउंट्स मेनेजर, पूर्वज : अमृतसर से है, और वर्तमान में मेरठ से हूँ, कविता, शायरी, गायन, चित्रकारी की रूचि है , EMAIL : talwarajit3@gmail.com, talwarajeet19620302@gmail.com. Whatsapp and Contact Number ::: 7599235906
Recommended Posts
शायरी
मैं नहीं चाहता की तू मुझ को दुआ दे मैं नहीं चाहता की तू मुझे वफ़ा दे मैं नहीं चाहता की रब से मेरे लिया... Read more
मेरे जज्बात
मेरे जज्बात ********* जब भी देखता हूँ मैं तुझे मेरा दिल भर आता है कितनी खुशमिजाज है तू कितनी खूबसूरत है तू कितनी दिलकश है... Read more
तन्हा दिल है मेरा
बेबसी हैं बेकसी हैं तन्हा दिल हैं मेरा, रब्बा मेरे रब्बा मेरे मेरे महबूब से तू मिला दे, टुटा हुआ ए दिल मेरा, घायल हैं... Read more
?मेरा और मेरे मित्र का वार्तालाप?
Ritu Asooja लेख Jan 23, 2017
मेरा और मेरे मित्र का वार्तालाप " "मेरा और मेरे मित्र का वार्तालाप" कुछ लोग ऐसे होते हैं,जो बेवज़ह खुश रहने की वज़ह पूछते है।... Read more