मेरा वतन

1-सरहद पर जब जब दुशमन ने वीरों को ललकारा है।
बड़ते रहे कदम वीरों के लगाया भारत मां का जयकारा है।

2-अपने तिरंगे की खातिर अपनी जान भी दे जाएंगे।
नतमस्तक न होंगे दुशमन के आगे अपने शीश कटा जाएंगे।

3-कतरा कतरा अपने लहु का न्योछावर वतन पे करता है।
हर सैनिक भारत मां का वतन के लिए जीता और मरता है।।।
कामनी गुप्ता ***

Like Comment 0
Views 64

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share