मुझ से मेरे सफ़र की न पूछ

मुझ से मेरे सफ़र की न पूछ
वो जिस दम तू मुझ से रूठा था
साथ रूह का अपना छूटा था
खाली जिस्म सफ़र कर के
घर की दहलीज पे बैठा था
~ uns

Like 2 Comment 0
Views 4

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share