23.7k Members 50k Posts
Coming Soon: साहित्यपीडिया काव्य प्रतियोगिता

मुक्तक

जख्मों को छुपाया और मरहम छुपा लिया,
पलकों से अपनी आँख का शबनम छुपा लिया।
तुम रोके भी गम अपना जरा कम न कर सके,
हमने हंसी की आड़ में हर गम छुपा लिया।।
-विपिन शर्मा
रामपुर

7 Views
कवि विपिन शर्मा
कवि विपिन शर्मा
रामपुर, उत्तर प्रदेश पिन कोड 244901
66 Posts · 762 Views
पिता–श्री हरस्वरूप शर्मा जन्म–02 अगस्त 1979 ग्राम–मेघानगला जदीद, पोस्ट रास डंडिया जिला रामपुर, उत्तर प्रदेश,...
You may also like: