मुक्तक

कहना मेरा मानो , तो कोई बात बने ।
कुछ करने की ठानो, तो कोई बात बने।
यूँ तो पहचानते हैं,लोग यहाँ लोगों को ,
पर तुम खुद को जानो,तो कोई बात बने।

Like Comment 0
Views 848

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share