31.5k Members 51.9k Posts

मुक्तक

Apr 18, 2020 01:56 PM

दिमाग नहीं दिल को लिए फिरती हूं
तभी तो दिमाग वालों को ख़राब लगती हूं
~ सिद्धार्थ
2.
न तेरे आने में हम हैं, न तेरे जाने में
हम तो तुझ में हैं और दिल तेरे बहाने में
~ पुर्दिल सिद्धार्थ
3.
मैं मर के फिर उठूंगी एक दिन अपने कब्र से
उससे कहूंगी…
चल मुहब्बत वालों का काफिला सजाते हैं
हम मुहब्बत से भरी एक दुनियां बनाते हैं
~ पुर्दिल सिद्धार्थ

2 Likes · 7 Views
Mugdha shiddharth
Mugdha shiddharth
Bhilai
841 Posts · 12.1k Views
मुझे लिखना और पढ़ना बेहद पसंद है ; तो क्यूँ न कुछ अलग किया जाय......
You may also like: