मुक्तक

सँवर कर हूर होतै जा रहे है
नशे में चूर होते जा रहे है
खता कर वो हमारे साथ ऐसी
नजर काफूर होते जा रहे है

7 Views
डॉ मधु त्रिवेदी शान्ति निकेतन कालेज आफ बिजनेस मैनेजमेंट एण्ड कम्प्यूटर साइंस आगरा प्राचार्या, पोस्ट...
You may also like: