मुक्तक

है छोटी-सी ज़िन्दगी,खोना मत बेकार।
पल-पल में जीवन भरा, खुशियों की भंडार।
चुन-चुन कर मोती पिरो, अधरों पे मुस्कान-
हो जाओ बिंदास तुम, हँसो ठहाका मार।
-लक्ष्मी सिंह
नई दिल्ली

Like 8 Comment 3
Views 62

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share