मुक्तक

1-जब रिश्ते खोखले हो जाये
उसे तराजू पे तोला नहीं करते।
समुंदर की लहरों को नापा नहीं करते ।।

2- जरूरी नहीं हर पीने वाला
बहक जाये ।
जरुरी नहीं हर ना पीने वाला
चरित्रवान कहलाये ।।

3- हर बात का एक वक्त होता है।
जब वक्त गुजर जाये
तो उस बात के मायने
खत्म हो जाते हैं ।।

4- हम ख्वाब बुनते हैं
वो ख्वाब उघारते हैं ।
जिसकी जैसी फितरत है
वैसा धर्म निभाते हैं ।।

5- जरूरी नहीं हर लिखने वाला
सच्चा इंसान होता है।
जरूरी नहीं हर गोली चलाने वाला
हैवान होता है।।

~रश्मि

3 Likes · 6 Comments · 136 Views
जब से लिखना आया तबसे लिखना शुरू की...... पर किसी ने बताया नहीं की लेखन...
You may also like: