*** मुक्तक : क्यूँ आतंकी प्यारे लगते ***

** मुक्तक : क्यूँ आतंकी प्यारे लगते **
क्यूँ आतंकी प्यारे लगते बद्जुबानी नेता को ,
मृत्यु का फरमान सुना दो अब गद्दारी नेता को,
जान गँवाते वीरों का ये नित अपमान करते हैं ,
ठोक पीट जमीं मे गाडो इन गद्दारी नेता को ।
******* सुरेशपाल वर्मा जसाला

2 Comments · 29 Views
I am a teacher, poet n writer, published 8 books , started a new Hindi...
You may also like: