Skip to content

“माता”

*प्रशांत शर्मा

*प्रशांत शर्मा "सरल"*

कुण्डलिया

May 14, 2017

*मातृदिवस पर माता के चरणों में समर्पित कुंडलिया*

* “माता”*

माता माता सब कहे,मैं भी कहता आज।
करता जननी साधना, रहता जिन पर नाज।
रहता जिन पर नाज, तुम्हीं से जीवन पाया।
मानस वंदन आज, मिले बस तेरी छाया
कह प्रशांत कविराय, व्यर्थ के शब्द जुटाता।
चरणों में सब राज, कहे जा माता माता।

प्रशांत शर्मा “सरल”
नरसिंहपुर

Share this:
Author
*प्रशांत शर्मा
नेहरूवार्ड नरसिंहपुर गुलाब चौराहा दीनदयाल स्कूल
Recommended for you