23.7k Members 50k Posts

माँ

माँ तू कौन है,
तेरा नाम है क्या?
कहां से आई तू इस धरा पर”
अपने साथ ममता का अथाह सागर लेकर।
नौ महीने गर्भ में रखकर,
जन्‍म हमे देती है तू।
कितना कष्ट सेहकर,
हमे धरा पर लाती है तू।
सबसे पहले मुख से निकले,
वो शब्‍द बड़ा शीतल है माँ।
दुख से भरे जीवन में,
खुशियों का तू दामन है माँ।
जिस बाग के हम फूल,
उसकी तू माली।
जो भी चाहे सब तू देती,
रखे न हमें खाली।

-अभिनव गोईत, मधुबनी (बिहार)

This is a competition entry.

Competition Name: "माँ" - काव्य प्रतियोगिता

Voting for this competition is over.

Votes received: 21

2 Likes · 44 Comments · 114 Views
Abhinav Goit
Abhinav Goit
मधुबनी (बिहार)
4 Posts · 171 Views
गुजर चुके कुछ साल जिंदगी के, कुछ नए पुराने को हो चले हैं, यादें वही...