माँ मेरा मन

????
माँ मेरा मन,
तेरी गोदी ढूंढता है।
माँ मेरा तन,
तेरी वही स्पर्श चाहता है।
माँ मेरा अन्तस,
हर पल तुझे पुकारता है।
तू आ जाये काश अभी,
हर पल ये सोचता है।
????—लक्ष्मी सिंह ??

139 Views
MA B Ed (sanskrit) My published book is 'ehsason ka samundar' from 24by7 and is...
You may also like: