माँ बडी अनमोल है माँ को तडपने तुम न दो

माँ बडी अनमोल है माँ को तडपने तुम न दो|
माँ अमृत की बूँद है माँ को बिलकने तुम न दो||
माँ की ममता तुम एेसे यूँ बिखरने तुम न दो|
माँ बडी अनमोल है माँ को तड़पने तुम न दो||१

माँ ही ब्रम्हा माँ ही बिष्णु माँ ही भोलेनाथ है|
हर मुस्किल मे बिन स्वार्थ देती यारो साथ है||
ईश्वर के इस लेख को तुम बदलने अब न दो|
माँ बडी अनमोल है माँ को तडपने तुम न दो||२

माँ ही गंगा माँ ही यमुना माँ कावेरी रेवा है|
तत्पररहकरयारोसुनलो करतीसबकीसेवा है||
नदी सागर तालाबो को,यारो मरने तुम न दो|
माँ बडी अनमोल है माँ को तडपने तुम न दो||३

माँ ही मृत्यु माँ ही जीवन माँ ही यारो प्राण है|
सारे जगका सुनलो यारो करती माँ कल्याण है||
सारे जग को एेसे यारो यूँ बदलने तुम न दो|
माँ बडी अनमोल है माँ को तडपने तुम न दो||४

माँ ही भव है माँ ही सागर सबको जग से तार दे|
सारी जिंदगी खुशहाली से यारो माँ गुजार दे||
बूढ़ी माँ तुम यूँ अपनी यूँ बिलकने तुम न दो|
माँ बडी अनमोल है माँ को तडपने तुम न दो||५

माँ ही दृृष्टि माँ ही श्रृष्टि माँ ही सब संसार है|
माँ ही सच्चा यार यारो, माँ ही सबका प्यार है||
सारी श्रृष्टि तुम यारो यूँ उजड़ने तुम न दो|
माँ बडी अनमोल है माँ को तडपने तुम न दो||६

माँ की सेबा करलो यारो माँ ही देती जान है|
माँ का ही दुलारा है तू माँ का ही तो प्राण है||
माँ की इच्छाओ को यारो यूँ बिखरने तुम न दो|
माँ बडी अनमोल है माँ को तडपने तुम न दो||७
कृष्णकांत गुर्जर
मो.7804060303

क्या आप अपनी पुस्तक प्रकाशित करवाना चाहते हैं?

साहित्यपीडिया पब्लिशिंग द्वारा अपनी पुस्तक प्रकाशित करवायें सिर्फ ₹ 11,800/- रुपये में, जिसमें शामिल है-

  • 50 लेखक प्रतियाँ
  • बेहतरीन कवर डिज़ाइन
  • उच्च गुणवत्ता की प्रिंटिंग
  • Amazon, Flipkart पर पुस्तक की पूरे भारत में असीमित उपलब्धता
  • कम मूल्य पर लेखक प्रतियाँ मंगवाने की lifetime सुविधा
  • रॉयल्टी का मासिक भुगतान

अधिक जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें- https://publish.sahityapedia.com/pricing

या हमें इस नंबर पर काल या Whatsapp करें- 9618066119

Like Comment 1
Views 113

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share