.
Skip to content

@@@ माँ की याद @@@

अजीत कुमार तलवार

अजीत कुमार तलवार "करूणाकर"

कविता

February 14, 2017

लेकर आया हूँ में आज फिर
एक कविता ऐसी, जो न
कही कभी मैने, जो थी आज
तक मुझ से अनजानी

आज जन्म दिन की तारीख
याद है सब को , की कब में
पैदा हुआ था धरती पर,

आज शुभ विवाह की तारीख
याद है उनको, जिनकी शादी
हुई थी उस तारीख पर,

मरते की तारीख न कोई याद कर
सका, न कोई याद कर सकेगा
कब गुजर गया में यहाँ पर !!

क्या याद है वो दिन जब माँ ने तुझे दूध पिलाया था ?
क्या याद है वो दिन जब तुझे चलना सिखाया था ?
क्या याद है वो दिन तुझे रोने पर उस ने हसाया था ?
क्या याद है वो दिन जब सूखे में तुझे सुलाया था ?

तेरी इक आहट पर जाग उस की खुल जाती थी !
मेरा लल्ला भूखा है उठ कर तेरी भूख मिटाती थी
कहीं पेट दर्द तो नहीं झट पट जाकर हींग पिलाती थी !
तून चुप नहीं होता तो सारी रात झूला झुलाती थी !!

आज तून अपनी माँ का दर्द जान कर भी अनजान है !
न जाने तुझे अपनी किस बात का हो रहा गुमान है !!
रिश्ते तो दुनिया में न जाने कितने ,कितनो से बन जायेंगे
अगर माँ मर्म न समझा प्यारे,,,कभी सुखी नहीं रह पाओगे !!

आज तुझे अपना हर खर्चा अच्छा लगता है !
माँ का बुढ़ापा तुझे अनजाना सा लगता है !!
क्या खूब “अजीत” इस दुनिया का अंजाम है !
बेटा न कर सका कुछ , इसी लिए वो बदनाम है !!

अजीत कुमार तलवार
मेरठ

Author
अजीत कुमार तलवार
शिक्षा : एम्.ए (राजनीति शास्त्र), दवा कंपनी में एकाउंट्स मेनेजर, पूर्वज : अमृतसर से है, और वर्तमान में मेरठ से हूँ, कविता, शायरी, गायन, चित्रकारी की रूचि है , EMAIL : talwarajit3@gmail.com, talwarajeet19620302@gmail.com. Whatsapp and Contact Number ::: 7599235906
Recommended Posts
कविता: वो बचपन की यादें
आज फिर याद आई मुझे मेरे गाँव की। वो बचपन की यादों की वो पीपल की छांव की।। १.माँ की ममता के आँचल तले, कितने... Read more
मुझे वो दिन बहुत याद आते है
Sonu Jain कविता Oct 30, 2017
वो बचपन के दिन ।। वो हँसना खिलखिलाना ।। वो खेल खिलौनो से खेलना ।। वो रोना फिर मनना ।। मुझे वो दिन बहुत याद... Read more
!! तेरी याद !!
आज तेरी याद आ गयी पास मेरे हम उस को सीने से लगा कर बहुत रोये जब वो याद को थोडा सकूंन मिला तो हम... Read more
याद है
तेरी साँसों का वो शोर याद है बरसा था जो सावन घनघोर याद है हाथ बढ़ा कर पकड़ती थीं बारिश की बूँदें जो मोहब्बत का... Read more