23.7k Members 49.9k Posts

माँ (एक शब्द महान)

माँ एक शब्द महान
जिससे जन्म लिए इंसान ।
माँ ममता की खान
माँ मे समाया सारा जहान ।
माँ ममता की मूरत
माँ की भोली है सूरत।
माँ ही प्रथम गुरु है
माँ से ही सीखना शुरू है।
माँ मे कितनी ममता है
माँ से न कोई समता है ।
माँ से ही मिलती है सीख
माँ मे मुझे दिखता है ईश।

विन्ध्यप्रकाश मिश्र विप्र

49 Views
Vindhya Prakash Mishra
Vindhya Prakash Mishra
नरई चौराहा संग्रामगढ प्रतापगढ उ प्र
339 Posts · 21.6k Views
विन्ध्यप्रकाश मिश्र विप्र काव्य में रुचि होने के कारण मैं कविताएँ लिखता हूँ । मै...