.
Skip to content

महावीर जयंति की हार्दिक शुभकामनाएँ

जयति जैन (नूतन)

जयति जैन (नूतन)

लेख

April 8, 2017

जय जिनेंद्र
महावीर जिनका नाम है,
कुण्डलपुर जिनका धाम है,
ऐसे त्रिशला नन्दन को,
हमारा शत शत बार प्रणाम है!

‘महावीर जयंती’ जैन सम्प्रदाय का प्रसिद्द त्यौहार है। महावीर जयंती भगवान महावीर के जन्मदिन के रूप में मनाई जाती है। भगवान महावीर अंतिम
तीर्थंकर थे। यह त्यौहार हिन्दू कैलेंडर के अनुसार,मार्च- अप्रैल के महीने में पड़ता है।
पंचशील सिद्धान्त के प्रर्वतक एवं जैन धर्म के चौबिसवें तीर्थकंरमहावीर स्वामी अहिंसा के मूर्तिमान प्रतीक थे। जिस युग में हिंसा,.पशुबलि, जाति-पाँति के भेदभाव का बोलबाला था उसी युग में भगवान महावीर ने जन्म लिया। उन्होंने दुनिया को सत्य, अहिंसा जैसे खास उपदेशों के माध्यम से सही राह.दिखाने की ‍कोशिश की। अपने अनेक प्रवचनों से मनुष्यों का सही मार्गदर्शन किया।
नवीन शोध के अनुसार जैन धर्म की स्थापना वैदिक काल में हुई थी। जैन धर्म के वास्तविक संस्थापक ऋषभदेव थे। महावीर स्वामी ने जैन धर्म में अपेक्षित सुधार करके इसका व्यापक स्तर पर प्रचार किया।
आपको और आपके परिवार को,
महावीर भगवान् के जन्म कल्याणक की हार्दिक शुभकामनाये !
जियो और जिने दो और अहिंसा परमो धर्म
इन सभी महावीर स्वामी के उपदेश के साथ विश्व मे शांति हो इस मंगलकामना के साथ सभी जैन भाईयों को महावीर जयंति की हार्दिक शुभकामनाएँ !

Author
जयति जैन (नूतन)
लोगों की भीड़ से निकली आम लड़की ! पूरा नाम- DRx जयति जैन उपनाम- शानू, नूतन लौकिक शिक्षा- डी.फार्मा, बी.फार्मा, एम. फार्मा लेखन- 2010 से अब तक वर्तमान लेखन- सामाज़िक लेखन, दैनिक व साप्ताहिक अख्बार, चहकते पंछी ब्लोग, साहित्यपीडिया, शब्दनगरी... Read more
Recommended Posts
भगवान महावीर जयंती
युग की है यही पुकार, फिर हो महावीर अवतार जियो और जीने दो, गूँजे हर घर, मंदिर, हर द्वार युग की है यही पुकार, फिर... Read more
जैनो का कड़वा सच
बताओ कोई भी अजैन व्यक्ति महावीर जयंती, दशलक्षण पर्व, या कोई भी जैन त्यौहार मनाता या आपको बधाई देता है? नही न क्या कोई भी... Read more
जैन धर्म
जैन धर्म भारत का एक प्राचीन धर्म है। 'जैन धर्म' का अर्थ है - 'जिन द्वारा प्रवर्तित धर्म'। 'जैन' कहते हैं उन्हें, जो 'जिन' के... Read more
नेताजी सुभाषचंद्र बोस जयंती
जिसकी जन्म स्थली थी कटक, सुभाषचंद्र था नाम । ऐसे वीर सपूत को करता शत शत प्रणाम ।। स्थापना की बोस ने आजाद हिन्द फौज... Read more