.
Skip to content

*** महारथी से बडा सारथी ***

भूरचन्द जयपाल

भूरचन्द जयपाल

कविता

July 16, 2017

हे अर्जुन क्यों करता है अभिमान

महा-रथी से बडा सा-रथी होता है

क्या महाभारत तुमने जीता

कब रश्मिरथी को परास्त किया

हे अर्जुन क्यों करता है अभिमान

क्या जयद्रथ-वध तुमने किया

नहीं, वह कृष्ण की माया थी

वरना जलना होता तुम्हे अग्निसंग

होती कृष्ण-बिन जब प्रतिज्ञा भंग

हे अर्जुन क्यों करता है अभिमान

रश्मिरथी ने तुझको जीवनदान दिया

तुमने निहत्थे पर शर-सन्धान किया

हे अर्जुन क्यों करता है अभिमान

है भूला तो पूछ उस बबरीक से

जिसको उसने खाटूश्याम किया

हे अर्जुन क्यों करता है अभिमान

एक सात्यकि- कृष्ण दोनों ने

वही सारथि बन काम किया

हे महारथी बिन सारथि तुम क्या

क्या महाभारत में अवदान रहा

बिन कृष्ण क्षीण-श्रीहीन हुए तुम

जब बिन तरकस-कमान हुए तुम

हे अर्जुन क्यों करता है अभिमान

महारथी से बडा सारथी होता है

हे महारथी बिन सारथि तुम क्या

क्या महाभारत में अवदान रहा

हे अर्जुन क्यों करता है अभिमान

महारथी से बडा सारथी होता है ।।

?मधुप बैरागी

Author
भूरचन्द जयपाल
मैं भूरचन्द जयपाल सेवानिवृत - प्रधानाचार्य राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, कानासर जिला -बीकानेर (राजस्थान) अपने उपनाम - मधुप बैरागी के नाम से विभिन्न विधाओं में स्वरुचि अनुसार लेखन करता हूं, जैसे - गीत,कविता ,ग़ज़ल,मुक्तक ,भजन,आलेख,स्वच्छन्द या छंदमुक्त रचना आदि में... Read more
Recommended Posts
।।सिर्फ़ काली लड़कियां ।। - निर्देश निधि “सिर्फ काली लड़कियां” मेरी प्यारी बहन अन्नी आज तुझे हमसे बिछड़े हुए पूरे अट्ठाईस बरस हो गए, अगर... Read more
*इन्विट्रो फर्टेलाईजेशन* के साईड एफेक्ट  पर एक कहानी
*इन्विट्रो फर्टेलाईजेशन* जैसे अविष्कार ने आज कल जिस तरह एक व्यापार का रूप ले लिया है,जैसे कि कुछ लोग तो सही मे औलाद चाहते हैं... Read more
सूनी कलाई
माँ क्यू सूनी है मेरी कलाई क्यूँ सूना है अपना अंगना बोलो ना माँ माँ बोलो ना कहाँ है मेरी बहना ....हर घर में रक्षा... Read more
कहानी -- वीरबहुटी
वीरबहु‍टी --- कहानी-- निर्मला कपिला साथ सट कर बैठी,धीरे धीरे मेरे हाथों को सहला रही थी । कभी हाथों की मेहँदी कोदेखती कभी चूडियों पर... Read more