.
Skip to content

महाभारत तो जीतना होगा

satyendra agrawal

satyendra agrawal

कविता

May 3, 2017

हे कृष्ण कब आओगे
आतंक का विकराल तांडव कब तक देखोगे
अर्जुन आज अवसाद में है
गीता पुनःसुनानी होगी
सारथी बन राह दीखानी होगी
फिर गांडीव धारण करवाना होगा
कुटिल दुर्योधन के अट्ठस को
धूल धूसरित करना होगा
कपटी अश्वत्थामा को
ब्रह्मसत्र से मारना होगा
आवश्यक हुआ तो
माँ भारती के लिये
तुम्हें भीप्रतिज्ञा तोड़नी होगी
चक्र सुदर्शन धारण कर
दानवों का वध करना होगा
महाभारत तो जीतना होगा
डॉक्टर सत्येन्द्र कुमार अग्रवाल

Author
satyendra agrawal
चिकित्सा के दौरान जीवन मृत्यु को नजदीक से देखा है ईश्वर की इस कृति को जानने के लिए केवल विज्ञान की नजर पर्याप्त नहीं है ,अंतर्मन के चक्षु जागृत करना होगा
Recommended Posts
नारी बिन दुनिया अधूरी,जग को अहसास कराना होगा ...
Neelam Ji कविता Aug 14, 2017
नारी बिन दुनिया अधुरी , जग को अहसास कराना होगा । रूढ़िवादी परम्पराओं से , खुद को आजाद कराना होगा ।। नारी को शंका त्यागनी... Read more
!! आखिर कब तक !!
कोई तो सीमा होगी कि तुम्हारे आने का वो समां कब आएगा और इन आँखों का इन्तेजार खत्म हो जाएगा कब तक , यह बताओ... Read more
चाँद सह्न पर आया होगा
होगी आग के दर्या होगा देखो आगे क्या क्या होगा ख़ून रगों में लगा उछलने चाँद सह्न पर आया होगा रस्म हुई हाइल गो फिर... Read more
तब और महाभारत होगा।
सुप्रभात मित्रों। सिंहासन के बगुले जब जब हंसों को ललकारेंगे। जब जब रावण सिया हरण को भेष जोगिया धारेंगे। जब जब भरी सभा में पंचाली... Read more