मैं रंग भरे...

(1)
?मैं रंग भरे
जिन्दगी के तराने
गुनगुनाऊँ?

(2)
?पंख ख्वाबों के
गगन में फैलाये
मैं उड़ जाऊँ?

(3)
?फूलों के संग
इन्द्रधनुषी रंग
में रंग जाऊँ ?

(4)
?सागर संग
लहरों में तरंग
यूँ बलखाऊँ?

(5)
?नई उमंग
नई सुरसंगम
प्रेम से गाऊँ?

(6)
?हवा के संग
मदमस्त सुगंध
मैं बन जाऊँ?

—लक्ष्मी सिंह ?☺

133 Views
MA B Ed (sanskrit) My published book is 'ehsason ka samundar' from 24by7 and is...
You may also like: