*मन मयूर*

खुशियों का मौसम आया है
सुखों का आलम छाया है
मन मयूर ने चहक चहक कर
इक मधुरिम राग सुनाया है
*धर्मेन्द्र अरोड़ा*

Like Comment 0
Views 14

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share