23.7k Members 49.9k Posts

मन की अपने देखिये

मन की अपने देखिये , घोड़े जैसी चाल
पंछी जैसे पर लिए, करता खूब धमाल
करता खूब धमाल, साथ सपनों के रहता
वो जाएँ जिस ओर, दिशा में उनकी बहता
कभी अर्चना साथ , न देता जब इसका तन
लगती गहरी चोट ,बुझा रहता फिर ये मन

डॉ अर्चना गुप्ता
मुरादाबाद(उ प्र)

Like Comment 0
Views 17

You must be logged in to post comments.

LoginCreate Account

Loading comments
Dr Archana Gupta
Dr Archana Gupta
मुरादाबाद
911 Posts · 94.1k Views
डॉ अर्चना गुप्ता (Founder,Sahityapedia) "मेरी प्यारी लेखनी, मेरे दिल का साज इसकी मेरे बाद भी,...