लघु कथा · Reading time: 1 minute

मनोबल

हर व्यक्ति डायरी नहीं लिखता,
अतीत की गलतियां समझ नहीं आती,
आपका ध्येय क्या है,
समय निर्धारण समय समायोजन कैसे है.
मनोबल की मजबूती निर्भर करती है.
रण में डटे रहते हैं.
या भाग उठते हैं.
आप किन लोगों से सलाह लेते है.
आपके निर्णय स्वैच्छिक होते है.
या संयुक्त उद्धरणों से आते है.
आने वाली हर समस्या को एक सवाल मानते है
या आफत.
मनोबल विचार तर्क वितर्क या आत्म-मंथन के हिस्से हैं,
समय समय पर मिलने वाली असफलता
आपके अनुभव में वृद्धि करती है.
यही वो पद्धति है जो आपकी जीत पक्की करती है,
आपको हारने नहीं देती.

5 Likes · 3 Comments · 91 Views
Like
378 Posts · 29.8k Views
You may also like:
Loading...