· Reading time: 1 minute

*!* कच्ची बुनियाद *!*

मतलब के रहते सब तेरी, करते रहेंगे जय जयकार
मतलब निकल गया तो, तुझसे करे न कोई आकर प्यार
मतलब के रहते……….
(1) मतलब स्वारथ का फंदा है, लोग तुझे पहनायेंगे
पुल बाँधेंगे तारीफों के, प्यार से हंस बतरायेंगे
उठाके पलकों पर रखेंगे, खूब करें तेरा दीदार
मतलब के रहते………..
(2) कहेगा तू वाह रे परमेश्वर, कितने यार दोस्त पाए
भरा है खुशियों से मेरा दामन, एक भी दोस्त नहीं जाए
बुरा समय जो तेरा आये, फिर न करे कोई तुझसे प्यार
मतलब के रहते…………
लेखक:- खैमसिहं सैनी
M.A, M.Ed, B.Ed Rajasthan
Mob.No. 9266034599

2 Likes · 196 Views
Like
Author
92 Posts · 9.7k Views
1. My Name - Khaimsingh Saini { Arise DGRJ } 2. My Qualification - M.A, B.Ed from University of Rajasthan. 3. "Senior Diploma"Completed in Vocal { Harmonium }.Fr. Prayag Sangeet…
You may also like:
Loading...