भुल

कहीं गीली -गीली सी धरती
कहीं सूखा-सूखा सा आसमान
कहीं जलप्रलय
कहीं जलविहीन जीवन
कहीं पक्षियों का रुद्रंन
कहीं इंसानों की कराह
प्रकृति का खेल
या इंसानों की भुल।
~रश्मि

Like 2 Comment 0
Views 64

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share