भारत का नव वर्ष

चैत्र शुक्ल की प्रतिपदा,करे सतत उत्कर्ष !
आता है इस रोज ही,भारत का नव वर्ष !!

नये वर्ष का देश में,करें खूब सत्कार !
दरवाजे पर बांधिये,..मंगल बंदनवार !!

दरवाजे पर टांकिए,..गुड़ी और इक आज !
नये साल का कीजिये, मन भावन आगाज !!

रहो भले इस देश में, .चाहे रहो विदेश !
भारत के नववर्ष का, स्वागत करें रमेश !!
रमेश शर्मा

Like 1 Comment 0
Views 33

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share