.
Skip to content

भारतीय फौज

Govind Kurmi

Govind Kurmi

कव्वाली

March 22, 2017

????????????????????

आम नहीं इनकी जिंदगी, मौका है हक अता करने का
किस्मत वालों को मिलता, मौका ये वतन पे मिटने का

??????????
????????????????????

अमृत का लालच ना इन्हें, इनको बस गंगा चाहिए
ये शान है सारे भारत की, कफन पर तिरंगा चाहिए
गर गुर्राये कोई दुश्मन ये दहाड़ अपनी लगाते है
शेरों का जिगरा इनका हर दुश्मन से पंगा चाहिए

??????????
????????????????????

आम नहीं इनकी जिंदगी, मौका है हक अता करने का
किस्मत वालों को मिलता, मौका ये वतन पे मिटने का

??????????
????????????????????

भारत मां के लाल, ये तिरंगे की शान है
हर ओर इनके चर्चे, ये भारत का अभिमान है
यूँ बेफिक्र रहते हम सिर्फ उनकी वजह से
कोई आंख उठा ना देखे, इनसे ही हिन्दुस्तान है

??????????
????????????????????

आम नहीं इनकी जिंदगी, मौका है हक अता करने का
किस्मत वालों को मिलता, मौका ये वतन पे मिटने का

????????????????????

Author
Govind Kurmi
गौर के शहर में खबर बन गया हूँ । १लड़की के प्यार में शायर बन गया हूँ ।
Recommended Posts
अब वतन में हर तरफ ही प्यार होना चाहिए
ग़ज़ल ------------ अब चमन दिल का मेरे गुलजार होना चाहिए जिंदगी में अब ग़मे इतवार होना चाहिए -------?------- अब वतन में हर तरफ ही प्यार... Read more
ग़ज़लनुमा
ग़ज़लनुमा मशवरा देना हो तो दे देना चाहिए , पीना चाहे कोई तो पिला देना चाहिए । चाँद , तारे , ये हवाएं सब तुम्हारी... Read more
देश के वीरों के लिए
मेरी कविता देश के वीरों को समर्पित है। ना धन चाहिए, ना रतन चाहिए। हमको, पूरा मेरा वतन चाहिए।। कट गये जिनके सर, इस वतन... Read more
संग फूलों के सफर में खार होना चाहिए
अब चमन दिल का मेरे गुलजार होना चाहिए फिर ग़मों से जिन्दगी में इतवार होना चाहिए -------?------- अब वतन में हर तरफ ही प्यार होना... Read more