Skip to content

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ

Neeloo Neelpari

Neeloo Neelpari

कविता

January 12, 2017

बधाई हो बधाई, बेटी घर पर आई
बधाई हो बधाई, बेटी घर पर आई
बेटा था घर का सूरज, रोशनी अब आई
घर आँगन चौबारे ज्ञान की ज्योत जलाई

बधाई हो बधाई, बेटी घर पर आई
बधाई हो बधाई, बेटी घर पर आई

बेटी का पैदा होते ही ले लिया होता दम
सोचो, कहाँ से पैदा हुए होते तुम और हम
वंश बढ़ाएगा क्या बेटा अकेला?
बेटा ही हो, भगवान एक बेटा झोली डालो
ऐसी दुहाई क्यों देते हम सब?

बधाई हो बधाई, बेटी घर पर आई
बधाई हो बधाई, बेटी घर पर आई

परियों सी होती है बेटी, छुईमुई न बनाना
पढ़ाना लिखाना इसको, स्वावलंबी बनाना
पढ़ गयी जो बेटी, माँ बाबा की शान बढ़ाये
देश का नाम जगभर में ऊंचा करती जाए

बधाई हो बधाई, बेटी घर पर आई
बधाई हो बधाई, बेटी घर पर आई

टीचर डॉक्टर कलेक्टर पुलिस वकील
क्या क्या बन गई रही आज बेटी
पर्वत खाई समंदर सबको लांघ
नभ के सितारे छू रही है बेटी
हाँ हाँ छू रही है बेटी

बधाई हो बधाई, बेटी घर पर आई
बधाई हो बधाई, बेटी घर पर आई

घर की आन बान शान है बेटी
माँ पिता का अभिमान बेटी
रानी झांसी मनु भी है बेटी
भारत कोकिला सरोजिनी भी तो बेटी
कल्पना,चंदा,सायना-सानिया देश की बेटियां
अरुंधति भट्टाचार्य भी है बेटी

बधाई हो बधाई, बेटी घर पर आई
बधाई हो बधाई, बेटी घर पर आई

थोड़ा हाथ तुम बढ़ाओ बेटी के जन्मदाता
थोड़ा साथ देगी देखो यह अपनी सरकार
वर्दी, किताबें, छात्रवृति, बैंक बैलेंस लाडली का
पौष्टिक खाना, आयरन की गोली बाँट रही शिक्षा संग

बधाई हो बधाई, बेटी घर पर आई
बधाई हो बधाई, बेटी घर पर आई

© नीलू ‘नीलपरी

Share this:
Author
Neeloo Neelpari
नाम : नीलू 'नीलपरी' जन्म : 29 जनवरी  निवास : नई दिल्ली संपर्क : 8527822220 Email : nrechnil@gmail.com Blog : http://neelparikasaptrangiaasman.blogspot.com/ शिक्षा : एम. एस. सी.(मनोविज्ञान), एम. ए. (Child Development & Education), बी-एड्, GNIIT Computers कार्यक्षेत्र :    व्यख्याता, मनोवैज्ञानिक, कवियत्री, लेखिका,... Read more

क्या आप अपनी पुस्तक प्रकाशित करवाना चाहते हैं?

साहित्यपीडिया पब्लिशिंग से अपनी पुस्तक प्रकाशित करवायें और आपकी पुस्तक उपलब्ध होगी पूरे विश्व में Amazon, Flipkart जैसी सभी बड़ी वेबसाइट्स पर

साहित्यपीडिया की वेबसाइट पर आपकी पुस्तक का प्रमोशन और साथ ही 70% रॉयल्टी भी

साल का अंतिम बम्पर ऑफर- 31 दिसम्बर , 2017 से पहले अपनी पुस्तक का आर्डर बुक करें और पायें पूरे 8,000 रूपए का डिस्काउंट सिल्वर प्लान पर

जल्दी करें, यह ऑफर इस अवधि में प्राप्त हुए पहले 10 ऑर्डर्स के लिए ही है| आप अभी आर्डर बुक करके अपनी पांडुलिपि बाद में भी भेज सकते हैं|

हमारी आधुनिक तकनीक की मदद से आप अपने मोबाइल से ही आसानी से अपनी पांडुलिपि हमें भेज सकते हैं| कोई लैपटॉप या कंप्यूटर खोलने की ज़रूरत ही नहीं|

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें- Click Here

या हमें इस नंबर पर कॉल या WhatsApp करें- 9618066119

Recommended for you