बेटी और बेटे में भेद क्यूँ होता ?

???????
बेटी और बेटे में भेद क्यूँ होता ?
बहुत सोचा पर समझ नहीं आता !
???????
कहते बेटा कुल का वारिश है ,
पर बेटी कौन सी लावारिस है ।
जिस कोख से जन्मता है बेटा ,
बेटी भी तो उसी कोख की पैदाइस है ।।
???????
बेटी और बेटे में भेद क्यूँ होता ?
बहुत सोचा पर समझ नहीं आता !
???????
कहते बेटा घर में रहेगा ,
बेटी तो पराया धन है ।
कभी सोचा है बेटी को पराया बनाता कौन है ?
बेटे को घर में रहने का हक देता कौन है ?
???????
बेटी और बेटे में भेद क्यूँ होता ?
बहुत सोचा पर समझ नहीं आता !
???????
बेटा बेटी दो आँखों जैसे , किसी ने बात कही है सच्ची ,
पर दोनों आँखों में से एक आँख क्यूँ लगती नहीं अच्छी ।
बेटे की भ्रूण हत्या करते कभी भी देखा नहीं किसी को ,
जिस भ्रूण को रोज ही मरते देखा वो है केवल बच्ची ।।
???????
बेटी और बेटे में भेद क्यूँ होता ?
बहुत सोचा पर समझ नहीं आता !
???????

Like 3 Comment 0
Views 613

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share
Sahityapedia Publishing