मेरी बेटियाँ

????
जिस में महके
प्यार की कलियाँ
ऐसी है मेरी बेटियाँ।
?
जिस में बहे
सद्भावना की नदियाँ
ऐसी है मेरी बेटियाँ
?
घर-आँगन में
भर दे खुशियाँ
ऐसी है मेरी बेटियाँ।
?
जिसमें समाये
सारी दुनिया
ऐसी है मेरी बेटियाँ।
?
हृदय मौन भाषा
जो पढ़ ले
ऐसी है मेरी बेटियाँ
?
सुने मन में
रोशनी से भर दे
ऐसी है मेरी बेटियाँ।
?
जो मेरे जजबात
को समझे
ऐसी है मेरी बेटियाँ
?
जो मेरे उलझन
सुलझाये
ऐसी है मेरी बेटियाँ।
????—लक्ष्मी सिंह ?☺

Like Comment 0
Views 14.6k

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share