Skip to content

बुरा न मानो होली है। (हाईकू)

ramprasad lilhare

ramprasad lilhare

हाइकु

March 11, 2017

बुरा न मानो होली है। (होली की हाईकू। 5-7-5

बुरा न मानो
होली है जी होली हैं
रंग उड़ाओ।

रंग उड़ाओ
शिकवे भूलकर
खुशी मनाओं।

खुशी मनाओं
सारे मिलकर
नाचों नचाओं।

नाचों नचाओं
रंगों की होली खेलों
पानी बचाओं।

पानी बचाओं
मदिरा छोड़कर
चाय पिलाओं।

चाय पिलाओं
कड़वाहट छोड़ो
मीठा खिलाओ।

मीठा खिलाओं
दीपक जलाकर
तम भगाओ।

तम भगाओ
सभी साथ मिलके
होली मनाओं।

रामप्रसाद लिल्हारे
“मीना “

Author
ramprasad lilhare
रामप्रसाद लिल्हारे "मीना "चिखला तहसील किरनापुर जिला बालाघाट म.प्र। हास्य व्यंग्य कवि पसंदीदा छंद -दोहा, कुण्डलियाँ सभी प्रकार की कविता, शेर, हास्य व्यंग्य लिखना पसंद वर्तमान में शास उच्च माध्यमिक विद्यालय माटे किरनापुर में शिक्षक के पद पर कार्यरत। शिक्षा... Read more
Recommended Posts
होली खेलो यार मीत ,यह बात मैं दिल से करता हूं। रंग में भर के प्यार आज,दुनिया को रंग मैं रंगता हूं। प्रेम का आधार... Read more
बुरा न मानो होली है
Naveen Jain गीत Mar 13, 2017
होली है फागुन का महीना है, उड़ रहा है अबीर होली का पर्व है रे, मनवा हुआ अधीर चले पिचकारी सारा रा होली है आरा... Read more
शिल्प- 1 2 3 2 1 शब्द (1) होली का त्योहार जीवन में लाया रंगों की बौछार। (2) होली में जलते अत्याचार, कपट, छल निष्पाप... Read more
आज सखी होली है
%%%%%%%%%%%%% ???????????? प्रेम के रंग उड़ाओ आज़ सखी होली है झूमो नाचो गाओ आज़ सखी होली है ढोलक झांझ मजीरा बाजै मिलके फगुआ गाओ आज़... Read more