लेख · Reading time: 4 minutes

बिहार चुनाव:अमित शाह जी

भारत के गृह मंत्री अमित शाह जी का इंटरव्यू ज्वलंत विषयों पर बेबाक टिप्पणी
=========================
देश के यशस्वी गृहमंत्री जी ने बहुत दिनों के बाद निजी चैनल पर इंटरव्यू दिया है। पूरे देश में उनके करोड़ों प्रशंसकों को उनके स्वास्थ्य को लेकर चिंता थी। जब वे खुद दीखे तो सबको संतोष और सुख मिला। उनकी बीमारी के समय देश विरोधी कुछ तत्व अपनी प्रसन्नता छिपा नहीं पा रहे थे।या गृहमंत्री ने कहा कि मैंने स्वयं अपने कोरोना से पीड़ित होने की बात कही थी। कोरोना की वजह से वे स्वस्थ होने के बाद कुछ कमजोर हो गए थे और इम्युनिटी लेवल कुछ कम हो गया था। अस्पताल में चिकित्सकीय निदेशों के आलोक में वे स्वास्थ्य लाभ कर रहे थे। उन्होंने बड़े बेबाक ढंग से कहा कि इस बीच काफी कुछ पढ़ने का काम किया। अपने कार्यों का लेखा जोखा किया। आत्मनिरीक्षण का भी अवसर मिला। उन्होंने स्पष्ट किया कि वे पूरी तरह स्वस्थ हैं।

बिहार में विधान सभा चुनाव अभी एक ज्वलंत मुद्दा है। इस प्रसंग में उन्होंने कहा कि २०१५ के विधान सभा चुनाव में भाजपा ने पहले से अधिक सीटें जीती थीं। मत प्रतिशत में भी वृद्धि हुई थी। किन्तु सामजिक समीकरणों के उस क्षण हम चुनाव जीत नहीं पाए थे। इस चुनाव के प्रसंग में अमित शाह ने कहा कि इस बार माहौल बहुत अच्छा है। सामाजिक समीकरणों को लेकर भी हम आश्वसत हैं। कोरोना की विशेष चर्चा करते हुए कहा कि पूरे देश में केंद्र और राज्य सरकारों ने मोदी जी के नेतृत्व में बहुत सराहनीय कार्य हुआ। बिहार में ९५ प्रतिशत रिकवरी रेट का उल्लेख करते हुए नीतीश सरकार की प्रशंसा भी की। कांग्रेस के नेता थरूर ने पाकिस्तान के लाहौर में कहा कि कोरोना में भारत से बेहतर है पाकिस्तान। इसपर अपने विचार रखते हुए गृह मंत्री अमित शाह जी
ने कहा कि कांग्रेस के नेता राहुल गांधी मणिशंकर अय्यर आदि ने पहले भी पाकिस्तान की तारीफ की है। यह उनकी तुष्टिकरण की खुली नीति है।उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया में हमारे यहां के रिकवरी रेट और मृत्यु दर को सराहा है। मृत्यु को कोई सरकार छिपा सकती है क्या? कोरोना का मृत्यु दर ही हमारी सफलता बता रहा है। गृह मंत्री जी ने कहा कि देश में हम मोदी जी के नेतृत्व में लगातार सफलता की सीढ़ियां चढ़ रहे हैं। बिहार में एन डी ए का नेतृत्व नीतीश जी कर रहे हैं और वो ही हमारे मुख्यमंत्री के उम्मीदवार भी हैं। बिहार में लगातार विकास के कार्य होते रहे हैं। जनता सब जानती है। चिराग पासवान के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि हमने उन्हें ४२ सीटें दी थीं। वे हमसे अलग हो गए हैं और बिहार में वे अलग होकर लड़ रहे हैं। चुनाव में एन डी ए में वे नहीं हैं। उन्होंने स्पष्ट कहा कि जद यू भाजपा वही आई और हम ये ०४ दल ही एन डी ए में हैं और नेतृत्व नीतीश जी कर रहे हैं। गृह मंत्री अमित शाह जी ने कहा कि बिहार में हम दो तिहाई बहुमत से चुनाव जीतेंगे।

कश्मीर के मुद्दे पर गृह मंत्री अमित शाह जी ने कहा कि डेढ़ दो साल के भीतर कश्मीर का पूरा स्वरूप ही बदल जायेगा। पिछले ७० सालों में जो हुआ वह तो लोगों ने देखा ही है। अभी जो हो रहा है वह भी लोग देख ही रहे हैं। पूरा परिदृश्य वहां बदल गया है बदल रहा है और पूरी तरह बदल जायेगा। उन्होंने कहा कि जेल और हाउस अरेस्ट से निकलने के बाद फारुख अब्दुल्ला उमर अब्दुल्ला और मुफ़्ती की समस्त गतिविधियों पर सरकार की नजर है। सरकार ने फारुख की चीन समर्थन सम्बन्धी बयानों को नोट किया है और समय पर सही कदम उठाया जाएगा।

बंगाल की ममता सरकार पर नजर है।गृह मंत्री अमित शाह जी ने कहा कि किसी भी प्रदेश में राजनीतिक कार्यकर्ताओं की इतने बड़े पैमाने पर कभी हत्या नहीं हुई जितनी बंगाल में अभी तक हो चुकी है। सबकुछ केंद्र सरकार के संज्ञान में है। भाजपा के नेताओं कार्यकर्ताओं की हत्या हुई है हो रही है। भाजपा ने राष्ट्रपति शासन की मांग भी की है। किंतु राष्ट्रपति शासन लगाने के कुछ मापदंड होते हैं उन सबको देखकर ही निर्णय लिया जाता है। गृह मंत्री अमित शाह जी ने यह भी कहा कि बंगाल ही ऐसा प्रदेश है जिसने कोरोना के सबन्ध में केंद्रीय दिशा निदेशों का पालन करने में आना कानी की है। सबकुछ देखा जा रहा है।

चीन के विषय में कहा कि कूटनीतिक और सैन्य स्तरों पर सीमा विवाद को सुलझाने के लिए प्रयत्न किए जा रहे हैं। उन्होंने साफ लफ्जों में कहा कि मोदी सरकार के समय एक इंच जमीन भी चीन नहीं ले सकेगा। गृहमंत्री ने कहा कि यह १९६२ नहीं है। हम हर प्रकार से तैयार हैं। राहुल गांधी के १५ मिनट वाले बयान पर कहा कि उनकी पार्टी के शासनकाल में ही १९६२ में हजारो किलीमेटर जमीन पर चीन ने कब्जा कर लिया है। इतने वर्षों तक कांग्रेस की सरकार रही जमीन को वापस क्यों नहीं लिया गया? भारत आज पूरी मुस्तैदी से चीन के सामने डेटा हुआ है। गृहमंत्री जी ने जनता को आश्वस्त किया कि भारत की एक इंच जमीन भी चीन दखल नहीं कर पायेगा।

अमित शाह जी ने दुहराया कि प्रधानमंत्री जी ने कोरोना के लिए जागरूकता अभियान चलाने का आह्वान किया हैं। हम आशा करते हैं कि अपने देश में कोरोना का दूसरा फेज नहीं आएगा। अभी तक तो सबकुछ इस प्रसंग में नियंत्रण में ही है।

इंटरव्यू के अंत में गृह मंत्री अमित शाह जी ने बिहार के मतदाताओं से अनुरोध किया कि विधानसभा चुनाव में एन डी ए को प्रबल बहुमत से विजयी बनावें।
•••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••
भारत माता की जय
जय हिंद जय भारत
वंदे मातरम
सनातन धर्म की जय

38 Views
Like
218 Posts · 5.3k Views
You may also like:
Loading...