.
Skip to content

बिटिया

योगेश गुप्ता

योगेश गुप्ता

कविता

January 10, 2017

घर आँगन की शान है बिटिया,माँ की जैसे जान है बिटिया
बिटिया घर की रौनक होती, चेहरे की मुस्कान है बिटिया

ख़ुशी ख़ुशी हर गम को सहती, हर खुशियों में आगे रहती
बिटिया से घर बनता जन्नत, ईश्वर की वरदान है बिटिया

बिटिया घर का बड़ा सहारा, घर का इन पर बोझ है सारा
बिटिया माँ की ताकत है, पापा का अभिमान है बिटिया

बिटिया खुशबु आंगन की है, बिटिया कलियां दामन की है
बिटियां ही महकाती जीवन, पूरा एक बागान है बिटिया

बिटिया माँ की छाया बनकर, लक्ष्मी सी वो काया बनकर
सबके रग में रची बसी सी, घर की एक मेहमान है बिटिया

लगा के मेहँदी पहन के बिंदिया,छोड़के अपनी मीठी निंदिया
जिस दिन छोड़ेगी बाबुल को,उस दिन से अंजान है बिटिया

हर हाल ढल जाती बिटिया , फिर कैसे जल जाती बिटिया
कैसे साथ जाऊं सजन के, यह सोच सोच हलकान बिटिया

इस दुनिया में आने से पहले, ममता माँ की पाने से पहले
कोख में जो मारी जाती , नन्ही सी एक जान है बिटिया

जो कुछ बेटा कर सकता है, वह सब बिटिया कर सकती है
बेटों के समान है बिटिया , अब कहाँ गुमनाम है बिटिया

Author
योगेश गुप्ता
छतीसगढ़ के कोरिया जिले से हूँ, संवेदंशील विषयों पर मंचीय कविताएं लिखता हूं, श्रृंगार को छोड़ बाकी सभी विधाओं पर कलम चलाता हूँ ।
Recommended Posts
बिटिया
मेरी एक कहानी बिटिया। मेरे दिल की रानी बिटिया।। उसकी चंचल बातें हर-इक। याद मुझे जुबानी बिटिया।। हर पल उसके साथ जिऊँ मैं। वही मेरी... Read more
यहाँ अजन्मी मर जाती है, क्यों माँ कि कोख पर बिटिया| देवी का अनूप रुप है, जग स्तंभ सृष्टि है बिटिया | संस्कार धरोहर आन... Read more
__जिग़र का टुकड़ा होती है बिटिया___
बिदाई के दिन जिगर का टुकड़ा होती है बिटिया... मगर जन्म होने पर क्यों शोक होती है बिटिया... . निर्मल संस्कारों की छाँव में पलती... Read more
तेरी बिटिया
MANINDER singh गीत Jan 10, 2017
ऐ माँ मैं हूँ तेरी बिटिया, नन्ही, प्यारी सी बिटिया, लगा गले मुझे आज अपने, आँचल में तेरे देखूं सपने,, कभी पराया न मुझे करना,... Read more