बहन का प्यार

बहन का अर्थ !
उससे पुछो जिसके पास नही है
गम मे रहे भईया तो हसी का पिटारा खोल देती ।
गुस्से मे रहे भईया तो ना जाने कैसे मना लेती ।।
शायद भगवान का दिया तोहफा है सिर्फ बहना को,
नही तो पराया बनकर भी अपने पास होती है ।

कभी छोटी -मोटी बाते पर गुस्सा जाती
जब भईया गुस्साते तो उसे मना लेती ।
करते हमेशा अटपटांग काम
जिससे भईया का गुस्सा खत्म हो जाती ।।

प्यार है भाई-बहन का दुनिया मे अलग,
यह रिश्ता है दुनिया मे सबसे बढ़िया ।
थोड़ी भी तकलीफ मे हो भाईया ,
रात-रात भर जग कर सेवा वह करती ।।

Like 1 Comment 0
Views 23

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share