.
Skip to content

बढे राष्ट्र का मान

RAMESH SHARMA

RAMESH SHARMA

दोहे

January 28, 2017

राष्ट्र-भक्ति की भावना ,भारत का सम्मान !
करिये ऐसा काम जो, बढे राष्ट्र का मान !!

जात-पात को त्याग कर,ऐसी भरें उड़ान !
मानचित्र पर विश्व के, बढे राष्ट्र का मान !!
रमेश शर्मा.

Author
RAMESH SHARMA
अपने जीवन काल में, करो काम ये नेक ! जन्मदिवस पर स्वयं के,वृक्ष लगाओ एक !! रमेश शर्मा
Recommended Posts
राष्ट्र निर्माता
गरिमामयी पद पर हैं दाग,आहत हूँ मैं राष्ट्र निर्माता हूँ या आत्मघातक हूँ मैं चिन्तन का है विषय,आत्ममंथन कर लूँ खलनायक नहीं,राष्ट्र नायक हूँ मैं... Read more
नित
लड़की नित आगे बढ़े , लड़के करें न काम । मान भंग हो कुल का , अपना डूबे नाम ।। सहज स्वभाव साथ ले ,... Read more
सच्चा सुख
काज सभी ऐसे करें,जग का हो कल्याण रहे न कोई भी दुखी,बढ़े सभी का मान बढ़े सभी का मान,रहें सब ही हर्षाते जो करते शुभ... Read more
बलिदान
जीवन प्रेम खो कर के, तुमने ये प्रेम पाया है जीऊँ वर्ष हजारों मैं, कभी न ये विचारा है रहे सम्मान, स्वाभिमान, बढ़े पग राष्ट्र... Read more