Skip to content

बड़ो से कर ली दोस्ती, तो कोई बड़ा नहीं होता

आलोक प्रतापगढ़ी

आलोक प्रतापगढ़ी

शेर

March 4, 2017

बड़ो से कर ली दोस्ती, तो कोई बड़ा नहीं होता।
मुकद्दर बदलने के वास्ते कोई खड़ा नहीं होता।।

समुद्री लहरों से सीख लो, बढ़ना और घटना।
कि वक्त बदलता है पलभर में, और बड़ा हमेशा ही बड़ा नहीं होता।।

आलोक प्रतापगढ़ी

Author
आलोक प्रतापगढ़ी
कवि आलोक सिंह प्रतापगढ़ी
Recommended Posts
कोई छोटा बड़ा नही होता
1 वक़्त अपना बुरा नही होता दोष हम पर लगा नहीं होता प्यार तो प्यार है सुनो इसमें कोई छोटा बड़ा नही होता 2 दोस्ती... Read more
***    पहचान  ****
पहचान छुपाकर ......... पहचान बढ़ाना चाहते हो । ये कैसी दोस्ती का हाथ बढ़ाना चाहते हो । बड़ा नाजुक रिश्ता होता है दोस्ती का क्या... Read more
कभी सावन कभी वसंत दोस्ती
????? कभी सावन,कभी वसंत दोस्ती। पतझड़ में भी रहे संग दोस्ती। सागर के संग तरंग दोस्ती। जीवन में भर दे उमंग दोस्ती। इन्द्रधनुष के सातों... Read more
इन्सान बडा़ है
Alka Keshari गीत Aug 30, 2017
ना हिन्दू बडा़ है ना मुसलमान बडा़ है इन्सानियत हो जिसमें वो इन्सान बडा़ है। एक ही अल्लाह एक ही राम हैं, एक ही दाता... Read more