मुक्तक · Reading time: 1 minute

पढ़ा रहे हैं वो , दुनिया को आधुनिकता का पाठ

1.

पढ़ा रहे हैं वो , दुनिया को आधुनिकता का पाठ
बिखर रहे हैं , संस्कृति और संस्कारों के आलाप

2.

आधुनिकता के साए में जीता मानव, खुद पर कर रहा गर्व
पर वो यह नहीं जानता , इसी आधुनिक जीवन ने किया सबका जीवन नर्क

2 Likes · 32 Views
Like
You may also like:
Loading...