.
Skip to content

प्रेम दिवस (वेलनटाइन दिवस)

RAMESH SHARMA

RAMESH SHARMA

दोहे

February 15, 2017

प्रेम दिवस पर कामना, रहती यह हरबार !
देगा अच्छा प्यार से, .प्रेमी फिर उपहार !!

हर रिश्ता इस दौर मे बना जहाँ व्यापार !
प्रेम दिवस का फिरवहाँ,रहा नही कुछ सार!!

भेजा था ईमेल से,….मैने उन्हे गुलाब!
आया क्योंअब तक नही,उनका सुर्खजवाब!!

वेलनटाइन का चढा,..ऐसा यार बुखार!
जिसको देखो ले रहा,मन चाहा उपहार!!

बाजारों मे बिक गये,..बेहिसाब उपहार!
इसे कहूँ मै प्यार अब, या समझूँ व्यापार!!

वेलनटाइन पर अगर,महबूबा हो साथ!
खीसे मे देना पडे,…बार बार फिर हाथ! !

बना दिया है प्यार को,लोगों ने व्यापार!
वेलनटाइन रह गया,बन कर इक बाजार! !
रमेश शर्मा.

Author
RAMESH SHARMA
अपने जीवन काल में, करो काम ये नेक ! जन्मदिवस पर स्वयं के,वृक्ष लगाओ एक !! रमेश शर्मा
Recommended Posts
हाईकु
आज के हमारे हाईकु देखिए कुछ इस तरह चुंबन प्रेम हाईकु-पंच १ चुंबन प्रेम भारत मे जानिए पवित्रतम २ देश प्रेम है शहीदों का चुंबन... Read more
*****प्रेम........
यह दिवस आज ही क्यूं रोज क्यूं नहीं किस बात पर ,खफा किस बात का गम हर पल , हर दिन प्रेम की आगोश सब... Read more
वैलेंटाइन डे युवाओं का एक दिवालियापन
प्रेम शब्दों का मोहताज़ नही होता प्रेमी की एक नज़र उसकी एक मुस्कुराहट सब बयां कर देती है, प्रेमी के हृदय को तृप्त करने वाला... Read more
वैलेंटाइन
देख मान जा अब भी टाइम है। वरना में वैलेंटाइन के विरोध में लिखूँगा। जो गिफ्ट भेजने का इच्छुक हो पहले मेरा पता नोट कर... Read more