.
Skip to content

## प्रेम गीत ##

दिनेश एल०

दिनेश एल० "जैहिंद"

गीत

November 13, 2017

प्रेम गीत
@ दिनेश एल० “जैहिंद”

धड़कनों में आप आकर देखिए ।
दिल में ये बात लाकर देखिए ।।

अकेले कटता नहीं ये सफर ।
है मुश्किलों से भरी ये डगर ।।
नजरों से नजर मिलाकर देखिए–
धड़कनों में आप …….

डर लगता है जमाने से सनम ।
आसरा दीजिए बढ़ाकर कदम ।।
जुल्फों में फूल सजाकर देखिए—
धड़कनों में आप …….

दिल धड़कता आपके नाम से ।
मैं कुछ नहीं बिन तेरे काम से ।।
गले से गले मुझे लगाकर देखिए–
धड़कनों में आप …….

मेरी रूह को आपकी तलाश है ।
बुझा दीजिए जो मेरी प्यास है ।।
मुझ पे अब दिल लुटाकर देखिए–
धड़कनों में आप …….

===============
दिनेश एल० “जैहिंद”
07. 11. 2017

Author
दिनेश एल०
मैं (दिनेश एल० "जैहिंद") ग्राम- जैथर, डाक - मशरक, जिला- छपरा (बिहार) का निवासी हूँ | मेरी शिक्षा-दीक्षा पश्चिम बंगाल में हुई है | विद्यार्थी-जीवन से ही साहित्य में रूचि होने के कारण आगे चलकर साहित्य-लेखन काे अपने जीवन का... Read more
Recommended Posts
??चिरागे-मुहब्बत जलाकर देखिए??
हाथ से हाथ ज़रा मिलाकर देखिए। इंसानियत का गुल खिलाकर देखिए।। ज़िन्दगी किस तरह से संवरती है। चिरागे-मुहब्बत यार जलाकर देखिए।। परहित को दिल में... Read more
ख़ूबसूरत शै को अक़्सर देखिए
मेरा दिल है आपका घर देखिए जी न चाहे फिर भी आकर देखिए आप हैं, मैं हूँ, नहीं कोई है और क्या मज़ा है ऐसे... Read more
आदमीयत फिर जगा कर देखिए
जां वतन पर तुम लुटा कर देखिए दर्द गैरों का उठा कर देखिए ?? नफरते आतिश लगी है चार सूं प्यार का दीपक जलाकर देखिए... Read more
दिल ग़रीबों से मिलाकर देखिए
ग़ज़ल ------------- जां वतन पर तुम लुटा कर देखिए दर्द गैरों का उठा कर देखिए ?? नफरते आतिश लगी है चार सूं प्यार का दीपक... Read more