प्यार

क़भी तुम प्यार बन जाना
मेरा इकरार बन जाना
जमानें की निगाहों में
मेरा घर-द्वार बन जाना

कभी तुम दूर जाओगे
बड़ा हमको सताओगे
बताओ तो मेरे प्रियवर
लौट के कब आओगे

Like Comment 0
Views 9

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share