Feb 16, 2019 · कविता
Reading time: 1 minute

पुलवामा हमला

पुलवामा हमले से ,
कुरुद्ध हुआ हिंदुस्तान।
आंखों से निकलती चिंगारियां,
मांग रही इंसाफ ।
वीर जवानों के खून का बदला,
मांग रहा हर इंसान।
क्रोध आक्रोश की ज्वाला में ,
जल रहा हिंदुस्तान ।
दिल में भरी अंगार ,
आतंकियों का करेंगे संघार।
आग का गोला बनकर हर हिंदुस्तानी,
बरसेगा आतंकियों पर ।
पाकिस्तान का नामोनिशान,
मिटा के रख देगा धरती पर।।

1 Like · 18 Views
Copy link to share
Rameshwar gound
4 Posts · 137 Views
You may also like: